एम्स के नए निदेशक बने रणदीप गुलेरिया

Category सेहत

cytotec purchase canada डॉ. रणदीप गुलेरिया पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित किए जा चुके है

http://dentonstation.co.uk/?p=817 परवीन अर्शी 

click here दिल्ली.प्रमुख पल्मोनोलॉजिस्ट रणदीप गुलेरिया को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) दिल्ली का नया निदेशक नियुक्त किया गया.एक आधिकारिक बयान में कहा गया है कि गुलेरिया उन शीर्ष तीन दावेदारों में शामिल थे, जिनके नाम मंत्रिमंडल की नियुक्ति समिति के पास इस पद के लिए भेजे गए थे. गुलेरिया पल्मोनरी मेडिसीन एंड स्लीप डिसआर्डर विभाग के प्रमुख हैं.वे एम्स के पल्मोनरी मेडिसिन (फेफड़े से संबंधित रोगों) के विभागाध्यक्ष हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता वाली कैबिनेट की नियुक्ति संबंधी समिति (एसीसी) ने उन्हें पांच साल के लिए एम्स का निदेशक नियुक्त किया है.डॉ. गुलेरिया पल्मोनरी मेडिसिन और क्रिटिकल केयर में सुपर स्पेशियलिटी डिग्री डीएम (डॉक्टरेट ऑफ मेडिसिन) हासिल करने वाले देश के पहले डॉक्टर हैं. सांस की बीमारियों व फेफड़े के कैंसर के इलाज व शोध में उनका महत्वपूर्ण योगदान रहा है.वे पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का भी इलाज कर चुके हैं.

फेफड़े के कैंसर, अस्थमा आदि बीमारियों पर उन्होंने 400 से अधिक शोध पत्र प्रकाशित किए हैं। इसके अलावा वह चिकित्सा से संबंधित सरकार की कई सलाहकार समितियों के सदस्य भी हैं। उनकी उपलब्धियों के मद्देनजर ही केंद्र सरकार ने वर्ष 2015 में उन्हें पद्मश्री अवार्ड से सम्मानित किया। एम्स के नए निदेशक के लिए नियुक्ति प्रक्रिया की शुरुआत से ही उन्हें प्रबल दावेदार माना जा रहा था। उम्मीद है कि उनके नेतृत्व में एम्स विस्तार की परियोजनाएं पूरी होंगी और मरीजों को बेहतर चिकित्सा सुविधा मिलेगी।

पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित हिमाचल के  गुलेरिया को एम्स में देश का पहला पल्मोनरी मेडिसीन एंड स्लीप डिसआर्डर सेंटर स्थापित करने का श्रेय दिया जाता है.बयान में कहा गया, ‘एसीसी ने पल्मोनरी मेडिसिन एंड स्लीप डिसआर्डर विभाग के प्रोफेसर और प्रमुख रणदीप गुलेरिया को नई दिल्ली एम्स के निदेशक पद पर नियुक्ति के लिए मंजूरी दे दी है.’गुलेरिया पांच साल तक पद पर बने रहेंगे. प्रोफेसर एम.सी. मिश्रा इस साल 31 जनवरी को एम्स के निदेशक पद से सेवानिवृत्त हुए.

 

Please follow and like us:

Leave a Reply