गठबंधन में अभी से दिखने लगी गांठ: लखनऊ की एक सीट से सपा और कांग्रेस के दो उम्मीदवार

http://phoenix-dancing.com/classes/ यूपी में सपा 298 और कांग्रेस 105 सीटों पर एक साथ लड़ेगी


लखनऊ . एक तरफ जहां सपा-कांग्रेस गठबंधन के तहत अखिलेश यादव और राहुल गांधी ने एक साथ रोडशो करके अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं को स्पष्ट कर दिया है कि अब एक साथ दोनों पार्टियां गठबंधन के बाद चुनाव लड़ने जा रही हैं. वहीं अभी कुछ सीटों पर दोनों दलों के कार्यकर्ताओं के दिल नहीं मिल पा रहे और एक-दूसरे के सामने दिखाई दे रहे हैं. अमेठी और रायबरेली की सीटों पर तो अभी दोनों पक्षों के बीच गतिरोध बरकरार ही है, उसी बीच ताजा मामला लखनऊ सेंट्रल से जुड़ा है.

click here सपा के रविदास मेहरोत्रा और कांग्रेस के मारुफ खान आमने सामने

दरअसल लखनऊ सेंट्रल से सपा विधायक रविदास मेहरोत्रा और कांग्रेस नेता मारुफ खान ने चुनाव लड़ने के लिए नामांकन दाखिल किया है. इस मामले में इन दोनों ही नेताओं का कहना है कि वरिष्‍ठ नेताओं के कहने पर उन्‍होंने ऐसा किया है.इस संबंध में रविदास मेहरोत्रा का कहना है कि अखिलेश यादव और राहुल गांधी ने उनके लिए वोट मांगे हैं. लिहाजा वही चुनाव लड़ेंगे. मारुफ को अपना नामांकन वापस लेना होगा. वहीं मारुफ का कहना है कि राज बब्‍बर और गुलाम नबी आजाद के कहने पर उन्होंने नामांकन भरा है.

यूपी की कुल 403 सीटों में से सपा 298 और कांग्रेस 105 सीटों पर चुनाव लड़ेगी.

अमेठी और रायबरेली की 10 विधानसभा सीटों पर दोनों ही पक्षों के बीच गतिरोध बरकरार है.

पिछली बार २०१२ में आठ सीटें सपा और दो सीटें कांग्रेस ने जीती थीं.

सपा अपनी जीती हुई सीटों पर ही प्रत्‍याशी खड़ा करना चाहती है जबकि कांग्रेस इनमें से आधी सीटें मांग रही है.

Please follow and like us:

Leave a Reply