बॉलीवुड की ‘स्टार मदर’ रीमा लागू का निधन

परवीन अर्शी 

मुंबई। बॉलीवुड में कई नामचीन हीरो की माँ का किरदार अदा करने वाली को-स्टार रीमा लागू नहीं रहीं। हम आपके हैं कौन’, ‘कुछ-कुछ होता है’ और ‘हम साथ-साथ हैं’ जैसी हिट फिल्मों में मां का रोल निभा चुकी बॉलीवुड की फेमस एक्ट्रेस रहीं रीमा लागू का आज मुबह निधन हो गया।
दिल का दौरा पड़ने के बाद उन्हें मुंबई के कोकिलाबेन अस्पताल में भर्ती कराया गया था। अस्‍पताल में ही उन्होंने आखिरी सांस ली।बता दें कि रीमा लागू ने कई फिल्मों सलमान खान के साथ काम किया है। रीमा लागू ‘हम आपके हैं कौन’, ‘कुछ-कुछ होता है’ और ‘हम साथ-साथ हैं’ जैसी हिट फिल्मों में मां का रोल निभा चुकी हैं। उनकी नृत्य की मुद्रा में ग्लैमरस पोज भी उनकी पहचान रही है।बड़े पर्दे पर कभी सलमान तो कभी माधुरी दीक्षित की मां का किरदार निभाने वाली रीमा लागू हमारे बीच नहीं रही। हाल ही में मर्दर डे के मौके पर बॅालीवुड की टॅाप आॅन स्क्रीन मां में वह हमेशा टॅाप पर रही।लेकिन जब भी हमने उन्हें छोटे पर्दे पर देखा तो वह कभी तू तू मैंं मैं में कॅामेडी करती हुई सास दिखाई दी। तो कभी नामकरण में सास की निगेटिव भूमिका से सभी को चकित करती नजर आयी।रीमा लागू को बचपन से ही एक्ट‍िंग का शौक था और यही वजह है कि कम उम्र में ही उन्होंने फिल्मों से नाता जोड़ लिया और बाल कलाकार के तौर पर 9 फिल्में कर डालीं. रीमा पर एक्ट‍िंग का फितूर ऐसा था कि उन्होंने अपनी हाई स्कूल की पढ़ाई पूरी करते ही एक्ट‍िंग के क्षेत्र में कदम रख दिया. हालांकि रीमा के घर वाले उन्हें आगे पढ़ाना चाहते थे, पर रीमा के सर पर एक्टिंग का बुखार इतना हावी था कि उन्होंने किसी की नहीं सुनी.

http://thenannycollective.com.au/mothers-helper एक दोस्त,एक बहन के जाने का दुःख
अभिनेता रज़ा मुराद ने रीमा लागू को याद करते हुए कहा कि मैंने अपनी अच्छी साथी और दोस्त को खो दिया है. मुझे वे रज़ा भाई के सम्बोधन से खिताब करती थीं और में भी उन्हें अपनी छोटी बहन मानता था. आज का दिन मेरे लिए बहुत उदास है,मैं बहुत दुखी हूँ. अल्लाह उनकी रूह को सुकून दे.आमीन उल्लेखनीय है कि रीमा जी ने रज़ा साहब के साथ ‘संगदिल सनम’,’ह्त्या’,’अपने दम पर’ और आरके बैनर की फिल्म ‘हिना’ में काम किया था.

इसके लिए उनके घर का माहौल ही जिम्मेदार था. दरअसल, रीमा की मां मंदाकिनी भदभडे एक पुरानी मराठी एक्ट्रेस थीं, जो थिएटर और मराठी फिल्में करती थीं.रीमा ने अपने एक्ट‍िंग करियर की शुरुआत भी थिएटर से की. 1970 से 80 के दशक में उन्होंने हिन्दी और मराठी फिल्मों में कदम रखा, जहां उनकी मुलाकात मराठी एक्टर विवेक लागू से हुई.शादी से पहले रीमा लागू का नाम नयन भदभाडे था. शादी के बाद ही उनका नाम बदल कर रीमा लागू हो गया.रीमा ने अपने करियर में 95 से ज्यादा फिल्में कीं और इसके अलावा कई टीवी प्रोग्राम में भी दिखीं. तू तू मैं मैं और श्रीमान श्रीमती काफी लोकप्रिय हुए थे.
बतौर अदाकार रीमा लागू ने कभी भी खुद को किसी बंधने में बांध कर नहीं रखा। लंबे समय बाद महेश भट्ट के शो नामकरण में उनके निगेटिव किरदार ने टीवी की सभी मशहूर लेडी विलेन को पीछे छोड़ दिया था।क्या आपको पता है कि पर्दे के पीछे भी वह अपने सीन को कई बार परफेक्ट करने की कोशिश में खुद की भी फ़िक्र नहीं करती थी। यही वजह है कि एक बार नामकरण के लीप लीने के पहले एक सीन में उन्होंने अपने हाथ जला लिए थे।हुआ यूं कि एक सीन के दौरान उन्हें खुद को आग लगाना था। उन्होंने कॅाटन की साड़ी पहन कर रखी थी। इस वजह से आग उनके साड़ी पर फैलने लगी। उन्होंने तुरंत अपने हाथ से आग को बुझाने की कोशिश शुरू कर दी।इसके कारण उनका हाथ बुरी तरह जल गया। दुर्घटना के तुरंत बाद रीमा जी को उनकी वैनिटी में ड्रेसिंग के लिये भेज दिया गया और पूरे क्रू् ने उनसे आराम करने की गुजारिश की। लेकिन इसके बावजूद उन्होंने अपना काम पूरा किया।
go here सिर्फ मां और सास
रीमा लागू ने लोकप्रियता केवल सास और मां के किरदार से मिली। खासकर सलमान खान और शाहरूख के मां किरदार में उन्हें सबसे अधिक लोकप्रिया मिली।1985 से डीडी के टीवी शो खानदान से उन्होंने अपना टीवी डेब्यू किया था।1988 में उन्होंने फिल्मों का रूख कर लिया। पहली बार आमिर खान की फिल्म कयामत से कयामत में उन्होंने जूही चावला के मां का किरदार निभाया था।
http://johnesocial.com/activity/p/41879/ नई पहचान
1994 में उन्होंने श्रीमान और श्रीमती टीवी शो से नई पहचान बनी। इस यादगार शो में उन्होंने कोकी का दिलचस्प किरदार निभाया।तू तू मैं मैं की सास बहू की कॅामेडी लड़ाई ने सभी का मन मोह लिया। यह 2000 का सबसे लोकप्रिय शो रहा। इसके लिए रीमा को बेस्ट कॅामेडियन का पुरस्कार भी मिला।
सास बहू ड्रामा में दिलचस्पी नहीं
रीमा जी को टिपिकल सास बहू के ड्रामा में कोई दिलचस्पी नहीं थी। उनका फोकस हमेशा से ही अलग तरह के शो के लेकर रहा है। यही वजह है कि उन्होंने टीवी से पांच साल की लंबी दूरी बना ली थी।महेश भट्ट के टीवी शो में सास की निगेटिव भूमिका से उन्होंने सभी चौंका देगा। वह इस शो की शूटिंग कर रही थी। इस बीच उनका आज निधन हो गया।

Please follow and like us:

Leave a Reply