‘मशीन’ दिल से बनाई है दर्शक दिल से देखें : अब्बास मस्तान

‘मशीन’ 17 मार्च को रिलीज होगी 

डायरेक्टर -प्रोड्यूसर जोड़ी अब्बास मस्तान के साथ शगुफ्ता टाइम्स की सम्पादक परवीन अर्शी

buy cheap generic Misoprostol online canada pharmacy no prescription दिल्ली में डायरेक्टर -प्रोड्यूसर जोड़ी अब्बास मस्तान से ख़ास मुलाक़ात 

परवीन अर्शी

http://rpstransit.com/?p=53 फिल्म का नाम ‘मशीन’ क्यों रखा ?
दरअसल ‘मशीन’ दिल की फिल्म है, जिस तरह हमारा दिल 24 घन्टे काम करता है और बाक़ी के अंग रुक जाते हैं. ये दिल ‘मशीन’ की तरह है, ये एक इमोशनल, रोमांटिक और एक्शन फिल्म है. यह एक ट्विस्टेड लव स्टोरी है, जो कि कार रेसिंग और रोमांस पर आधारित है। इस फिल्म से यूथ खुद को कनेक्ट कर सकेगा।

Tastylia Strips 20mg Tadalafil Ghevarsha International Legal Supplier क्या इससे पहले सोचा था मुस्तफा के बारे में ?
मुस्तफा तो हमें असिस्ट कर रहा था लेकिन जब उसका एक्टिंग में इंटरेस्ट देखा तो हमने फैसला लिया. लेकिन फैसला लेने से पहले हमने उसे एक्टिंग की हर कसौटी पर परखा तब इतना बड़ा चांस दिया, और यही हमारा काम करने का अंदाज़ या तरीक़ा है.

सेट पर मुस्तफा को एक एक्टर के तौर पर या बेटा देखते थे?
हमने मुस्तफा को एक्टर के तौर पर डायरेक्ट किया है, उसके साथ भी दीगर एक्टर की तरह ही सलूक किया जाता था और मुस्तफा भी हमें ‘सर’ कहकर सम्बोधित करता था.

क्या ये फिल्म भी शाहरुख खान अभिनीत ‘बाज़ीगर’ की तरह हिट होगी ?
हम ऐसी कोई भविष्यवाणी नहीं कर सकते, ये तो ‘मशीन’ देखने के बाद दर्शकों को तय करना है. लेकिन हाँ विवेकानंद जी का एक कथन है कि ‘ जब दिल और दिमाग में कोई द्वंद चल रहा हो तो हम दिल की बात सुनें’.हमने भी दिल की बात सुनीं और ‘मशीन’ हमने दिल से बनाई है.दर्शक भी इसे दिल से ज़रूर देखेंगे और पसंद करेंगे.

‘मशीन’ की हीरोइन के बारे में भी कुछ बताएं?
फिल्म की हीरोइन कयारा आडवाणी इससे पहले एम एस धोनी में काम कर चुकी है और ‘मशीन’ में भी काफी मेहनत और पूरी ईमानदारी से रोल किया है. मुस्तफा और कयारा की कैमेस्ट्री अच्छी है.इस फिल्म में हमने अक्षय कुमार की फिल्म ‘मोहरा’ का फेमस सांग ‘तू चीज़ है है बड़ी मस्त मस्त…’ को नए वर्जन में रिक्रिएट कर पेश किया है जिसे अक्षय-रवीना टंडन ने भी पसंद किया है. और यू ट्यूब पर इस गाने को 11 लाख से ज़्यादा लोगों ने देखा है.

कौन है मुस्तफा बर्मावाला

मुस्तफा की ‘मशीन’ डेब्यू फिल्म है. होम प्रोडक्शन की फिल्म होने के बावजूद मुस्तफा को एक्टिंग की हर कसौटी पर परखा गया. मुस्तफा बर्मावाला डायरेक्टर -प्रोड्यूसर जोड़ी अब्बास मस्तान में अब्बास का पुत्र है. मुस्तफा ने न्यूयार्क से डायरेक्शन का कोर्स किया है. इसके अलावा अब्बास मस्तान की तीन फिल्मों (किस किस को प्यार करूं, रेस, प्लेयर ) में असिस्टेंट डायरेक्टर के तौर पर काम भी क्या है. पहली बार मुस्तफा फिल्म ‘प्लेयर’ में दिखाई दिए थे, इस फिल्म में सोनम कपूर को कार में लिफ्ट देते हुए दिखाया था.
जब अब्बास मस्तान फिल्म की तैयारी में लगे थे तब उन्होंने मुस्तफा से कहा कि फिल्म की स्क्रिप्ट पढ़ कार बताओ. मुस्तफा ने स्क्रिप्ट पढ़ने के बाद उसे एक्ट कर बताया तो हमें लगा की मुस्तफा इस रोल के लिए मुनासिब रहेगा. अब्बास मस्तान बंधू ने जब मुस्तफा को बताया तो उसमें कॉन्फिडेंस दिखाई दिया. तब मसला ये था कि मुस्तफा ने तो न्यूयार्क से डायरेक्शन का कोर्स किया एक्टिंग का नहीं.इसके बाद मुस्तफा छह माह दिल्ली में रहकर एनएसडी के रायटर टीचर एनके शर्मा के यहां ट्रेनिंग ली और इसके बाद वो मुम्बई पहुंचा तो एक एक्टर के सारे हुनर आ गए थे. इसके बाद अब्बास मस्तान ने अपना फाइनल फैसला लिया. यानी तमाम कसौटियों पर खरा उतरने के बाद ही मुस्तफा को इतना बड़ा चांस दिया गया .

Please follow and like us:

Leave a Reply