महबूबा मुफ्ती ने मोदी से कहा पत्थरबाजी के माहौल में बात संभव नहीं

दिल्ली में मेहबूबा मुफ्ती पीएम मोदी से मिलीं

दिल्ली.कश्मीर में बिगड़े हालातों के बीच राज्य की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने पीएम मोदी से सोमवार को मुलाकात की. दिल्ली में हुई मुलाकात के बाद महबूबा मुफ्ती ने बताया कि राज्य में गठबंधन और राज्य के हालात को लेकर बातचीत हुई. महबूबा मुफ्ती ने कहा कि मैंने पीएम मोदी से कहा कि किसी न किसी लेवल पर बातचीत जरूरी है.महबूबा मुफ्ती ने बताया कि सिंधु जल समझौते से कश्मीर को नुकसान है. पीएम मोदी ने इसपर विचार करने की बात कही. पत्थरबाजी के मुद्दे पर भी पीएम मोदी से बातचीत हुई.
महबूबा मुफ्ती ने कश्मीर में बातचीत शुरू करने का समर्थन किया. महबूबा मुफ्ती ने कहा कि पत्थरबाजों को उकसाया जा रहा है. पत्थरबाजी और गोली के बीच बातचीत नहीं हो सकती. महबूबा मुफ्ती ने कहा कि उन्होंने पीएम मोदी ने अपील की कि जहां तक वाजपेयी जी ने कोशिश की थी उसके आगे बढ़ना चाहिए. इसके लिए आगे माहौल बनाना होगा.इस बीच, गृह मंत्रालय में कश्मीर के हालात को लेकर उच्च स्तरीय बैठक भी हुई. गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कश्मीर के हालात को लेकर राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार, डायरेक्टर आईबी, गृह सचिव के साथ राज्य के हालात पर चर्चा की.
‘कश्मीर को लेकर गंभीर नहीं केंद्र सरकार’
जम्मू-कश्मीर में पीडीपी के नेता राज्य में ही बीजेपी के नेताओं के उन बयानों से परेशान हैं, जिसमें वह कश्मीर विरोधी बयान देते रहे हैं. यही वजह है कि पहली बार राजनीति में आए महबूबा मुफ्ती के भाई और अनंतनाग लोकसभा सीट से पीडीपी उम्मीदवार तसादुक मुफ्ती ने कुछ ही दिन पहले एक अखबार के साथ बातचीत में कहा कि केंद्र सरकार कश्मीर को लेकर गंभीर नहीं है.
घाटी में और बिगड़े हालात
जम्मू कश्मीर में साल 2016 में कई महीनों तक अशांति के बाद महबूबा मुफ्ती को उम्मीद थी कि साल 2017 में कश्मीर के हालात सुधर गए, लेकिन ऐसा हो नहीं सका और अब विरोध प्रदर्शनों में पत्थरबाजों के साथ-साथ स्कूलों और कॉलजों के छात्र भी जुटने लगे हैं. कश्मीर में पिछले एक हफ्ते से कॉलेज बंद पड़े हैं और पिछले साल की तरह ही इस साल भी पर्यटन फीका रह गया है.

Please follow and like us:

Leave a Reply

Skip to toolbar