परवीन अर्शी आइडियल वुमनिया नेशनल अवार्ड से सम्मानित

दिल्ली.राजस्थान की सामाजिक संस्था नृत्यांशी कला सोसायटी द्वारा महिला दिवस के अवसर पर विभिन्न क्षेत्रों में सक्रिय व लोकप्रिय 21 महिलाओं को ‘आइडियल वुमनिया नेशनल अवार्ड 2018’ से सम्मानित किया जाएगा.मध्य प्रदेश मूल की दिल्ली निवासी वरिष्ठ महिला पत्रकार परवीन अर्शी को भी ‘आइडियल वुमनिया नेशनल अवार्ड 2018’ से जयपुर में सम्मानित किया जाएगा.

परवीन अर्शी

परवीन अर्शी टीवी एंकर रिपोर्टर और शगुफ्ता टाइम्स डॉट कॉम न्यूज़ पोर्टल की एडिटर हैं तथा हिंदी की लोकप्रिय वेबसाइट हिंदी वार्ता डॉट कॉम से भी सम्बद्ध हैं.नृत्यांशी कला सोसायटी एनजीओ (जयपुर) की चेयर पर्सन व सचिव प्रीति श्रीवास्तव ने बताया कि संस्था 2010 से हर साल सामजिक,चिकित्सा,शैक्षणिक,राजनीतिक,संगीत और पत्रकारिता में सक्रिय और समर्पित महिलाओं को उनके उल्लेखनीय योगदान के लिए ‘आइडियल वुमनिया नेशनल अवार्ड ‘ से सम्मानित किया जाता है.

प्रीति श्रीवास्तव

2018 का राष्ट्रीय सम्मान 8 मार्च की शाम जवाहर कला केंद्र जयपुर में विशेष अतिथियों द्वारा दिया जाएगा.परवीन अर्शी देश की पहली मुस्लिम और मध्यप्रदेश की पहली महिला हैं जिन्हे ‘आइडियल वुमनिया नेशनल अवार्ड’ से सम्मानित किया जा रहा है. इसके अलावा देश के विभिन्न राज्यों में सक्रिय योगदान के लिए प्रीति सक्सेना, लता सुरेश, एक्लीन खोखर, डॉ. दिव्या कुमावत, अविषा सोनी, हेमलता सिंह, मीनाक्षी गिरधर, पूनम सारस्वत, ममता वर्मा, सरिता कपूर, सुषमा केके, अनु सिंह, सुलक्षणा अल्हावत, सुमन सोनी, प्रेरणा अरोड़ा, निधि पारीक, अनिता बोराना, हिमानी अज्ञानी, शारदा देवरा, निशिता शर्मा आदि को अलग-अलग क्षेत्रों के लिए सम्मानित किया जाएगा.नृत्यांशी संस्था की इवेंट मैनेजर अनिता श्रीवास्तव ने बताया कि संस्था के उक्त आयोजन को सफल बनाने में डायरेक्टर ब्रिज श्रीवास्तव,कोआर्डिनेटर विकास बंसल और अरबाज़ खान कोषाध्यक्ष का विशेष योगदान है.

प्रीति श्रीवास्तव:नृत्यांशी कला सोसायटी एनजीओ (जयपुर) की चेयरपर्सन व सचिव प्रीति श्रीवास्तव २०१० से इस संस्था के ज़रिए सामाजिक और सांस्कृतिक क्षेत्र में सक्रिय हैं. प्रीति जी ने जयपुर के जगतपुर इलाके में ग़रीब बच्चों को निशुल्क पढ़ाने से शुरुआत की,बाद में पारम्परिक संगीत और कला को प्रोत्साहित करने के लिए अनेक आयोजन भी किये. देश की अलग अलग क्षेत्र में सक्रिय महिलाओं के हौसलों को बढ़ाने के लिए ‘आइडियल वुमनिया नेशनल अवार्ड ‘ आरम्भ किया. जिसे पूरे देश में एक नई पहचान दी है.