भारत सरकार द्वारा राष्ट्रीय ई गवर्नेंस पुरस्कार 2016 – 17 में सिक्स सिग्मा स्टार हेल्थकेयर को रजत पुरस्कार से सम्मानित किया गया.

http://johnhykel.com/category/uscis/              भारत सरकार द्वारा राष्ट्रीय ई गवर्नेंस पुरस्कार 2016 – 17 में सिक्स सिग्मा स्टार हेल्थकेयर को रजत पुरस्कार
से सम्मानित किया गया.

http://jpcraighomebuilders.com/husqvarna-k-3000-vac/ .      सिक्स सिगमा को सम्मान विशाखापटनम में दिया गया.. इस समारोह में केद्रीय मंत्री के साथ साथ आंध प्रदेश के मुख्यमंत्री भी मौजूद थे.. आपको बता दें कि सिक्स सिग्मा देश में हुई आपदाओं में मेडिकल कैंप और राहत बचाव का काम करती है..

इनकी टीम,में बाढ़ आने पर सबसे पहले वहां बचाव के लिए पहुंचे.. नेपाल में भूकंप के वक्त साथ ही साथ गोरखा में भी मौजूद रहे। श्री अमरनाथ यात्रा, कैलाश मानसरोवर यात्रा, श्री मणिमहेश पवित्र यात्रा, हिमाचल प्रदेश समेत जम्मू कश्मीर में आई बाढ़ के वक्त सिक्स सिग्मा ने अपनी जान की बाज़ी लगाकर लोगों की जान बचाई.

.    हालांकि सिक्स सिग्मा को जब और धक्का पहुंचा जब उत्तराखंड में राहत बचाव के कार्य में इनकी टीम का एक मेंबर का भी निधन हो गया। डॉ प्रदीप भारद्वाज के नेतृव्त में लोग सिक्स सिग्मा के साथ जुड़ते जा रहे हैं.. और देश के लिए अपनी सेवाएं दे रहे हैं। इन्हीं का हौंसला देखते हुए दिल्ली के कॉन्सटीट्यूशन क्लब में भी सिक्स सिग्मा को केंद्रीय राज्य मंत्री हेल्थ फग्गन सिंह ने भी डॉ प्रदीप भारद्वाज और उनकी टीम को सम्मानित किया।

फग्गन सिंह का कहना था कि इस तरह के काम करने से देश में इंसानियत की मिसाल पैदा होती है साथ ही साथ लोगों में दूसरे लोगों की मदद करने की प्रेरणा भी मिलती है। फग्गन सिंह ने कहा कि वो ज़रुर सरकार के ज़रिए भी इस तरह के प्रोग्राम कराएंगे जिसमें लोगों को प्रेरणा मिल सकें।

वहीं डॉ प्रदीप भारद्वाज का कहना है कि वो किसी भी अपने मेंबर से कोई चार्ज नहीं लेते हैं। वो पेशे से डॉक्टर हैं और अस्पताल के माध्यम से ही जो पैसा आता है वो देश की सेवा में लगा देते हैं। साथ ही साथ आने वाले समय में भी इसी तरह से देश की सेवा करते रहेंगे। भारद्वाज ने ये भी कहा कि जो भी लोग हमारे साथ जुड़ना चाहते हैं वो बिना कोई चार्ज देकर हमसे जुड़ सकते हैं और मनाली में एक हफ्ते की ट्रैनिंग भी ले सकते हैं। सिक्स सिग्मा जिस तरह से काम कर रही है उससे साफ ज़ाहिर होता है कि अगर इसी तरह से लोग बढ़ चढ़ कर देश की सेवा करते रहे तो ज़रुर देश तरक्की करता रहेगा और इंसानियत की मिसाल भारत से ही बस देखने को मिलेगी।

Please follow and like us: